Ajmer Rajasthan Slider

जीवन दर्शन महोत्सव में जुटेंगे जाने माने संत

पुष्कर कस्बे के श्री शांतानंद उदासीन आश्रम में 19 और 20 दिसम्बर को ब्रह्मलीन स्वामी शांतानंदजी उदासीन और स्वामी श्री हिरदाराम साहिब उदासीन के जीवन के बारे में लोगो को बताने के लिए जीवन दर्शन महोत्सव का आयोजन होगा ।आश्रम के महंत राम मुनि महाराज ने बताया कि कार्यकम में अनन्त श्री विभूषित महामंडलेश्वर स्वामी गुरशर्णानंदजी महाराज रमणरेती,बाबा कल्याणदास जी महाराज अमरकंटक, आनंद भास्कराननद गुरु गंगेश्वर धाम,कपिल मुनि महाराज हरिद्वार ,महामंडलेश्वर हंसाराम जी महाराज भीलवाड़ा सहित देश के जाने माने संत भाग लेंगे ।कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए कवलप्रकाश किशनानी ने बताया कि बुधवार को को कल प्रात: काल से ही रामायण का अखंड पाठ शुरू हो जाएगा ।इसके बाद 10 से 12 के बीच संत समागम होगा ।शाम को साढ़े चार बजे धर्म ध्वजा स्थापना और सत्संग हाल का अनावरण होगा ।शाम को पाँच से सात बजे के बीच फिर से संत समागम होगा ।सात बजे आरती होगी ।गुरुवार को प्रात आठ बजे श्री रामायणजी के अखंड पाठ के भोग लगेगा ।9 से 10 के बीच बाल भोग होगा ।बाद में साढ़े दस बजे से 12 बजे तक सन्त समागम होगा ।दोपहर 1 बजे से सभी भक्त भंडारे में प्रसाद ग्रहण करेंगे ।भंडारे के बाद कार्यक्रम का समापन हो जाएगा ।

पूर्व पार्षद की याद में होगी 20 से होगी भागवत कथा

पुष्कर संत सेवा को समर्पित भाजपा के नेता पूर्व पार्षद दिवंगत जीवणचंद महावर की याद में आगामी 20 दिसम्बर गुरुवार से महावर परिवार की और से होटल न्यूपार्क में श्री मद भागवत कथा का आयोजन होगा ।मुख्य आयोजक नरेश महावर ने बताया कि गुरुवार को सबसे पहले पवित्र सरोवर के वराह घाट पर कथा वाचक अनंत श्री विभूषित श्री मद जगतगुरु रामानुजाचार्य श्री वत्स पीठाधीश्वर स्वामी श्री वेंकटेशाचार्य महाराज के सानिध्य में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ भागवतजी की पूजा अर्चना होगी ।इसके बाद महिलाये सिर पर मंगल कलश लिए और पुरुष भगवान का स्मरण करते हुए कलश यात्रा के रूप में आयोजन स्थल पहुचेंगे ।यहा पर कथा व्यास पहले दिन भागवत कथा के महत्व पर प्रकाश डालेंगे । 26 दिसम्बर तक रोजाना दोपहर ढाई बजे से लेकर शाम 6 बजे तक व्यास पीठ पर बैठे कथा व्यास संगीत की मधुर धुनों के बीच भागवत कथा के अलग अलग प्रसंगों पर प्रकाश डालेंगे ।आयोजन को सफल बनाने के लिए रामकुमार महावर,रामस्वरूप महावर और नरेश महावर के नेतृत्व में पूरा महावर परिवार और धर्मप्रेमी तैयारियों में जुटे हुए है ।

सड़को पर व्यर्थ बहा पानी

पुष्कर धार्मिकनागरी पुष्कर भले ही पिछले एक साल से पेयजल के गंभीर संकट से जूझ रही हो लेकिन जलदाय विभाग की लापरवाही के चलते समय समय पर कस्बे की सड़कों पर हजारो गेलन व्यर्थ पानी बह जाता है और विभाग के अदिकारियो और कर्मचारियों को सिकन तक नही आती ।आज भी अजमेर चुंगी नाके के हनुमानजी मंदिर के पास के ट्यूबवेल को चालू तो कर दिया गया लेकिन समय पर बन्द नही करने के कारण 1 घंटे से ज्यादा सड़क पर पानी बहता रहा ।जलदाय विभाग के कर्मचारियों को सूचना करने के बावजूद नही पहुचे ।ताला लगा होने के कारण मौके पर मौजूद पुरोहित भी बंद नही कर सके ।हैरानी की बात है कि सरकार जहा पानी की एक एक बूंद बचाने के लिए विज्ञापनों पर करोड़ो रूपये खर्च कर रही है वही सरकारी विभाग ही सरकारी प्रयासों पर पानी फेर रहे है ।

तीर्थ नगरी पुष्कर में कुतो का का जबरदस्त आंतक

तीर्थ नगरी पुष्कर में कुतो का जबरदस्त आतंक होने से लोगों का जीना दुश्वार हो रखा है पुष्कर के मुख्य बाज़ारो सहित घाटों पर कुतो के आंतक के चलते श्रदालुओ और स्थानीय लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तथा कई बार राह चलते लोगों पर भी कुतो ने हमला करके घायल कर रहे हैं कल रात्रि में भी आईडीएसएमटी कॉलोनी में राह चलती महिला को काटकर घायल कर दिया स्थानीय लोगों ने नगर पालिका और जिला प्रशासन से कुतो को पकडऩे की मांग की है।

 

बिजली की आंख मिचौली ने किया जन जीवन को प्रभावित

तीर्थ नगरी पुष्कर में गत दो-तीन दिनों से चल रही बिजली की आंख मिचौली ने पुष्कर के जनजीवन को प्रभावित कर रखा है वही आज बिना किसी सूचना के सुबह से ही दिन भर बिजली बंद रही अधिकारियों को इस मामले में जानकारी के लिए फोन किया तो किसी भी अधिकारी ने फोन उठाना तक मुनासिब नहीं समझा जिसके चलते लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा दिन भर रही आज अघोषित बिजली कटौती के कारण लोगों के इनवर्टर तक बोल गए तथा मोबाइल फोन डिस्चार्ज हो जाने से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा इन दिनों पानी की समस्या के साथ साथ लोगों को बिजली की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो वहीं दूसरी तरफ प्रशासन और जनप्रतिनिधियों के कारण लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है।

सर्दी ने दिखाना शुरू किया असर धूजणी छूटना शुरू

तीर्थ नगरी पुष्कर में अचानक ही मौसम परिवर्तन के साथ ही सर्दी ने अपना धीरे-धीरे असर दिखाना शुरू कर दिया है सुबह शाम लोगों को जमकर ठंड का सामना करना पड़ रहा ह सर्दी से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे है सुबह शाम सर्दी के चलते पुष्कर के बाजारों में भी रौनक कम दिखाई दे रही है लोग सर्दी से बचने के लिए अलाव ओर गर्म कपड़ो का सहारा ले रहे है सर्दी के चलते पुष्कर के बाजार सुबह देरी से खुलने शुरू हो गए तो शाम को जल्दी बन्द होने लग गए सर्दी के कारण सुबह शाम यात्रियों की चहल पहल कम दिखाई देने लग गई है।(PB)