Ajmer Rajasthan Slider

भव्य कलश यात्रा के साथ मद भागवत महापुराण ज्ञान यज्ञ शुरू

पुष्कर अनिल सर। पारीक समाज के अध्यक्ष ने किया साध्वी श्री करुणा गिरी जी महाराज का सम्मान साध्वी श्री करुणा गिरी ने बदलता पुष्कर के संपादक का दुपट्टा ओढ़कर किया सम्मान पुष्कर में आज भव्य कलश यात्रा के साथ पारीक सांस्कृतिक भवन में श्रीमद्भागवत महापुराण ज्ञान का शुभारंभ हुआ श्री मार्त्त आँचल सेवा समिति हरिद्वार के तत्वाधान में पारीक भवन में 14 दिसंबर से 20 दिसंबर तक आयोजित होने वाली श्रीमद् भागवत महापुराण ज्ञान यज्ञ में प्रतिदिन परम पूज्य श्री श्री 1008 बाल योगिनी महामंडलेश्वर संत शिरोमणि साध्वी श्री करुणा गिरी जी महाराज हरिद्वार के द्वारा प्रतिदिन प्रात: 10:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक अपनी अमृतवाणी से कथा का रसपान कराएंगे आज प्रथम दिन अखिल भारतीय पारीक समाज के अध्यक्ष रामनिवास पारीक मांडल जोधा कोषाध्यक्ष जगदीश प्रसाद पीलवा और व्यवस्थापक रघुनाथ प्रसाद पारीक द्वारा साध्वी का माला पहनाकर और शॉल ओढ़ाकर सम्मान किया इस अवसर पर साध्वी श्री करुणा गिरी जी महाराज ने बदलता पुष्कर के संपादक अनिल सर का दुपट्टा ओढ़कर सम्मान किया कथा के प्रथम दिन काफी संख्या में महिला पुरुष शामिल होकर पुण्य के भागीदार बनें।

जातिवाद की जाजम ही हुआ मतदान

पुष्कर भाजपा हो या कांग्रेस चुनाव से पहले विकास,महंगाई,सुशासन,भर्ष्टाचार ,बेरोजगारी की बाते करते है लेकिन चुनाव आते आते जातिवाद की जाजम पर ही हार जीत की चौसर खेली जाती है ।पुष्कर विधानसभा चुनावों में भी चुनाव के एक महीने पहले जिन मुद्दों को उछाला गया वो मुद्दे एक एक करके पीछे छूटते गए ।पुष्कर सरोवर बारिश के दौरान जाने वाले पानी को रोकने की बजाय राहुल की गौत्र और बजरंग बली की जाति पर ही बाते होने लगी जिससे जातियों और संप्रदाय के आधार पर धुर्वीकरण हुआ ।मसलन रावत समाज को अच्छी तरह से पता था कि यदि सुरेश रावत हारे तो अगले चुनावो में कोई पार्टी यहा से रावत को टिकिट नही देगी इसी तरह अल्पसंख्यक समुदाय को भी पता था कि यदि नसीम हारी तो इस सीट से अल्पसंख्यको की दावेदारी कमजोर होगी ।इसी के चलते जहा अधिकांश रावत समाज ने आपसी मतभेद भुलाकर भाजपा के पक्ष में जमकर मतदान किया तो अप्लसख्यको ने भी बढ़ चढ़कर नसीम के पक्ष में मतदान किया ।यह बात अलग है कि जीत में दूसरे सामजो की भी निर्णायक भूमिका रही ।यदि भाजपा की और से बनाये गए 6 मंडलो में हुए मतदान पर नजर की जाए तो साफ हो जाता है कि पुष्कर विधानसभा में जातिगत आधार पर धुर्वीकरण हुआ ।।
भाजपा के सुरेशसिंह रावत की जीत में एक बार फिर रावत बाहुल्य खोड़ा गणेश मंडल ने निर्णायक भूमिका निभाई ।यहा से भाजपा को 9351 मतों की बढ़त मिली ।यहा पर रावत की कौर टीम में शामिल मंडल अध्यक्ष महेन्दसिंह रावत,महामंत्री नरेंदसिंह चूंडावत,प्रधान सुनीता रावत,युवा मोर्चा अध्यक्ष सुजीत रावत, के नेतृव में लोक सभा उपचुनाव की तीन हजार की बढ़त को तीन गुना करके 9 हजार से ज्यादा किया गया ।इस मंडल में सबसे ज्यादा रावत ,गुर्जर,एससी और नाथ समाज के मतदाता है ।।


सर्दी ने दिखाना शुरू किया असर धूजणी छूटना शुरू

तीर्थ नगरी पुष्कर में अचानक ही मौसम परिवर्तन के साथ ही सर्दी ने अपना धीरे-धीरे असर दिखाना शुरू कर दिया है सुबह शाम लोगों को जमकर ठंड का सामना करना पड़ रहा ह सर्दी से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे है सुबह शाम सर्दी के चलते पुष्कर के बाजारों में भी रौनक कम दिखाई दे रही है लोग सर्दी से बचने के लिए अलाव ओर गर्म कपड़ो का सहारा ले रहे है सर्दी के चलते पुष्कर के बाजार सुबह देरी से खुलने शुरू हो गए तो शाम को जल्दी बन्द होने लग गए सर्दी के कारण सुबह शाम यात्रियों की चहल पहल कम दिखाई देने लग गई है।

जननायक अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री घोषित किये जाने पर पुष्कर क्षेत्र में खुशी की लहर

समाज के हर तबके और 36 कौम को साथ लेकर चलने वाले मुख्यमंत्री के रूप में तीसरी बार प्रदेश की कमान जननायक अशोक गहलोत को सौंपे जाने की अधिकृत खबर आते ही पुष्कर क्षेत्र के खुशी की लहर दौड़ गई। माली समाज के युवाओं द्वारा भी मिठाई बांटी तथा आतिशबाजी कर खुशी का इजहार किया। इस अवसर पर अजय सैनी, सूरज दग्दी, राकेश गहलोत, राधेश्याम सिंगोदिया, नंदकिशोर कुवाल, गजेंद्र तंवर, राहुल उबाना, मनोज दग्दी, शुभम कच्छावा, भूपेन्द्र सिंगोदिया, खेमचन्द उबाना, धीरज पँवार, योगेश जादम, शुभम उबाना, नन्दू उबाना, विकास दग्दी आदि उपस्थित थे।

तीर्थ नगरी पुष्कर में श्रीमद् भागवत ज्ञान यज्ञ कथा सप्ताह 20 दिसंबर से

तीर्थ नगरी पुष्कर में श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ सप्ताह 20 दिसंबर से पंचकुंड रोड पर स्थित होटल न्यू पार्क में आयोजित होने जा रही है 20 दिसंबर से 26 दिसंबर तक आयोजित होने वाली मद भागवत कथा ज्ञान सप्ताह का शुभारंभ 20 दिसंबर को भव्य कलश यात्रा के साथ शुभारंभ होगा कथा के आयोजक राम कुमार महावर रामस्वरूप महावर नरेश महावर ने बताया कि प्रतिदिन दोपहर 2:30 से से 6:00 बजे तक प्रसिद्ध कथा वाचक पीठाधीश्वर स्वामी श्री वेंकटशाचार्य जी महाराज संगीतमय श्रीमद्भागवत कथा अमृत का रसपान कराएंगे कथा की तैयारियां युद्ध स्तर पर शुरू हो गई है कथा का 26 दिसंबर को समापन होगा। कथा में 20 दिसम्बर को महात्म्य कथा होगी तो 21 दिसंबर को कपिल गीता और ध्रुव चरित्र 22 दिसम्बर को प्रहलाद चरित्र नरसिंह अवतार और वामन अवतार 23 दिसंबर को श्री राम जन्म और श्री कृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाएगा 24 दिसंबर को बाल लीला और गिरिराज पूजन छप्पन भोग की झांकी सजाई जाएगी 25 दिसंबर को रासलीला और रुक्मणी विवाह का आयोजन होगा तथा 26 दिसम्बर को श्री सुदामा चरित्र कथा और कथा का समापन होगा।(PB)