Bikaner Rajasthan Slider

ऊंट उत्सव में दिखेगी रबड़ी, जलेबी दूसरे दिन हेरिटेज वॉक

बीकानेर. अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव के दूसरे दिन 13 जनवरी को आयोजित होने वाली हेरिटेज वॉक में इस बार सैलानियों के साथ सजे-धजे ऊंट भी वॉक करेंगे तथा बीकाजी की टेकरी पर विदेशी सैलानी बीकानेर के व्यंजन स्वयं बनाकर लोगों को खिलाएंगे और खुद भी खाएंगे। इसके लिए भुजिया व जलेबी की भट्टी भी रखी जाएगी। जिसमें पर्यटक इन व्यंजनों को बनाएंगे। लोकायन संस्थान के सचिव गोपालसिंह ने बताया कि सुबह 9 बजे हेरिटेज वॉक का उद्घाटन होगा। यह हेरिटेज वॉक रामपुरिया हवेली से बीकाजी की टेकरी तक होगी। हेरिटेज वॉक में देशी-विदेशी पर्यटकों को शहर की पुरानी स्थापत्य कला, संस्कृति, रीति-रिवाज तथा व्यंजनों से रूबरू करवाएंगे।


हेरिटेज वॉक में कलाकार अपनी कलाओं का प्रदर्शन करेंगे तथा सजे-धजे ऊँट भी पर्यटकों के साथ वॉक करते हुए नजर आएंगे। इसके बाद डॉ. करणीसिंह स्टेडियम में विभिन्न ग्रामीण खेलकूद प्रतियोगिताएं होंगी। इसके साथ ही रामपुरिया हवेली भी दिखाएंगे। आसानियों के चौक में चौपड़ का प्रदर्शन दिखाएंगे। मोहता चौक में गणगौर के गीतों का प्रदर्शन होगा। पुरूष गणगौर के गीत गाएंगे। इसके बाद भोपा कलाकार रावणहत्था बजाएंगे। मरूनायक चौक में उस्ता कला का प्रदर्शन होगा। सब्जी बाजार में बारहगुवाड़ चौक की आयोजित शहजादी नौटंकी का प्रदर्शन होगा।

बनाएंगे रबड़ी-भुजिया लक्ष्मीनाथजी मंदिर में बीकानेर की बंधेज व ब्लॉक पेंटिंग दिखाई जाएगी। उसके बाद बीकाजी की टेकरी में बीकानेर के देशी व्यंजन कचौरी, जलेबी, रबड़ी, भुजिया, बड़ी, पापड़ आदि का प्रदर्शन भी किया जाएगा और खिलाया भी जाएगा। बाद में चंग का प्रदर्शन होगा तथा फोटो प्रदर्शनी लगाई जाएगी। इसके लिए 100 से 150 विदेशों से हैरिटेज वॉक में शामिल होंगे।(PB)