Rajasthan Slider

ईवीएम मशीन खराब होने के कारण केंद्र्रीय मंत्री अर्जुनराम को करना पड़ा 3 घंटे इंतज़ार

OmExpress NewsJaipur / राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए आज (शुक्रवार) को मतदान शुरू हो गया. मतदान की प्रक्रिया सुबह आठ बजे शुरू हो गई और यह शाम पांच बजे तक जारी रहेगी. वहीं प्रदेश में ऐसी कई जगहों पर मतदान प्रक्रिया के सही समय पर शुरू न होने की खबरें आने लगी है. EVM Machine Crash

इसकी क्रम में बीकानेर के बूथ संख्या 172 पर भी ईवीएम मशीन अचानक खराब हो गई. जहां मतदान करने गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल को भी जनता के साथ वोट देने के लिए घंटों कतार में खड़ा होना पड़ा.

वहीं सूचना के बाद मौके पर पहुंचे सेक्टर अधिकारीयों ने मशीन को ठीक किया जाकर करीब तीन घंटे के बाद मतदान की प्रकिया शुरू हो पाई. जिसके बाद केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने अपना वोट डाला. हालांकि मशीन में खराबी आने के बाद मेघवाल तीन घंटे लाइन में खड़े रहे और मशीन ठीक होने के बाद अपना वोट डाला. वहीं मंत्री मेघवाल ने मीडिया से बाच-चीत करते हुए सभी लोगों से वोट देने की अपील की.

बता दें कि चुनाव आयोग के तमाम दावों के बाद भी प्रदेश के कई बूथों पर इवीएम मशीनों के खराब होने की कई खबरें आ रही है. खबरों के मुताबिक प्रदेश के दूदू के बूथ नंबर 202 पर वोटिंग मशीन खराब हो गई जिसके कारण जनता को एक घंटे तक इंतजार करना पड़ा. नागौर में कई जगह वोटिंग मशीन चालू ही नहीं हुई जिसके कारण मतदाताओं की लम्बी कतार लग गई. EVM Machine Crash

मशीन ठीक होने के बाद देरी से हुआ मतदान शुरू

वहीं भीलवाड़ा के आसीन्द के जबरकिया बूथ संख्या 92 पर मशीन खराब हो गई. सूचना के बाद मौके पर पहुंचे सेक्टर अधिकारीयों ने मशीन को ठीक किया. जिसके बाद करीब डेढ़ घंटे के बाद मतदान की प्रकिया शुरू हो पाई. वहीं डाबला में भी ईवीएम मशीन के खराब होने के कारण एक घण्टे देरी से मतदान शुरू हो पाया.

जबकि प्रदेश के बूथ संख्या 187 पर मतदान के दौरान ही मशीन खराब हो गई जिसक् कारण मतदान की प्रक्रिया को बीच में ही रोकना पड़ा. वहीं सेठ सेवाराम स्कूल व कबूतरों बूथ पर भी मतदान सही समया पर शुरू नहीं हो पाया. हालांकि आयोग ने सुबह ही मॉकड्रिल की प्रकिया भी कर दी लेकिन तकनीकी खराबी की वजह से मतदाता लाइनों में खड़े रहे पर काफी देर तक मतदान शुरू नहीं हो पाया. EVM Machine Crash

गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने मतदान की तैयारियों और इवीएम मशीनों को लेकर यह दावा किया था कि इस बार चुनाव में मशीनो को लेकर कोई मुश्किल नहीं होगी. ईवीएम मशीनों के बारे में आयोग ने यह दावा किया था कि यह तकनीकि रूप से बेहद उम्दा हैं लेकिन अब मशीनों में आ रही खराबी से आयोग के दावों पर वाल उठने शुरू हो गए है.

बसपा के उम्मीदवार लक्ष्मण सिंह के निधन की वजह से मतदान स्थगित

बता दें कि राज्य की 200 विधानसभा सीटों में से 199 पर मतदान हो रहा है. बसपा के उम्मीदवार लक्ष्मण सिंह के निधन की वजह से अलवर जिले के रामगढ़ निर्वाचन क्षेत्र में मतदान स्थगित कर दिया गया है. मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच में है. EVM Machine Crash

लगभग 4.74 करोड़ लोग 2,274 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. इन 2,274 उम्मीदवारों में से 189 महिलाएं हैं. वहीं राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए हो रहे मतदान में 51 हजार 687 मतदान केंद्रों पर प्रदेश के 4 करोड़ 76 लाख से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.