Rajasthan Gaurav Yatra
Jodhpur Rajasthan Slider

नहीं होगा विपक्ष का महिलाओं को समर्पित भामाशाह योजना बंद करने का सपना साकार : राजे

बांसवाडा / जयपुर / OmExpress News मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा है कि कांग्रेस के नेता कहते हैं कि वे सरकार में आए तो भामाशाह कार्ड के टुकडे़-टुकडे़ कर देंगे। कोई कहता है इस कार्ड को फाड़ देंगे। कोई कहता है भामाशाह योजना बंद कर देंगे। नारी शक्ति को समर्पित वे उस भामाशाह योजना को बंद करना चाहते हैं जिसने दुनिया में पहली बार महिला को परिवार को मुखिया बनाया है। क्या आप चाहते हैं भामाशाह योजना बंद हो? यदि नहीं तो ऐसे लोगों को सत्ता पर काबिज मत होने दो जो महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने वाली योजनाओं को बंद करने की बात करे।  Rajasthan Gaurav Yatra at Banswara

मुख्यमंत्री बांसवाड़ा जिले के सैनावासा एवं घाटोल गांव में आयोजित स्वागत समारोह तथा आमसभा में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि जिस योजना ने सरकारी योजनाओं का शत-प्रतिशत पैसा लोगों के खातों में पहुंचाया और भ्रष्टाचार खत्म किया ऐसी योजना को कांग्रेस के नेता बंद करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वे उस भामाशाह स्वास्थ्य योजना को बंद करना चाहते हैं जिसने गरीबों की जिन्दगी बचाई।

मुख्यमंत्री घाटोल, धरियावद, प्रतापगढ़ में आयोजित आमसभाओं में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि जिस योजना ने सरकारी योजनाओं का शत-प्रतिशत पैसा लोगों के खातों में पहुंचाया और भ्रष्टाचार खत्म किया ऐसी योजना को कांग्रेस के नेता बंद करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वे उस भामाशाह स्वास्थ्य योजना को बंद करना चाहते हैं जिसने गरीबों की जिन्दगी बचाई। Rajasthan Gaurav Yatra at Banswara

जनजाति क्षेत्र में बीपीएल परिवारों को 50 यूनिट प्रतिमाह बिजली मुफ्त

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनजाति क्षेत्र में बीपीएल परिवारों को 50 यूनिट प्रतिमाह बिजली मुफ्त दी जायेगी। इसके आदेश हो गये हैं। उन्होंने कहा कि एक ओर हम है जिसने जो कहा वो किया। दूसरी तरफ कांग्रेस है जिसने सिर्फ कहा और किया कुछ नहीं। इसलिए अब वक्त आ गया है ऐसे लोगों को सबक सिखाने का और उन लोगों को साथ, प्यार और आशीर्वाद देने का जिन्होंने आपकी उन्नति के लिए सोचा।

तेज बारिश में भी मुख्यमंत्री को सुनने उमड़ी भारी भीड़ – Rajasthan Gaurav Yatra at Banswara

मुख्यमंत्री श्रीमती राजे की धरियावद और प्रतापगढ़ सभा के दौरान तेज बारिश हुई। लेकिन लोग उन्हें देखने और सुनने के लिए वहां डटे रहे। इसके अलावा जब वे धरियावद से प्रतापगढ़ आ रही थीं तब भी सड़क पर लोग भीगते हुए उनका इंतजार करते दिखे। जेलदा गांव में तो तेज बारिश में भीगते हुए लोगों को देख मुख्यमंत्री ने अपना काफिला रोका और भरी बारिश के बीच रथ की छत से लोगों को सम्बोधित किया। कई लोग बारिश के बचाव के लिए छतरी के नीचे थे तो कई लोगों ने भीगते हुए मुख्यमंत्री जी को सुना। मुख्यमंत्री ने तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करूणानिधि एवं विधायक जीतमल खांट के पुत्र के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि भी दी। इस कारण उन्होंने आमजनता से फूल और मालाएं स्वीकार नहीं किए। Rajasthan Gaurav Yatra at Banswara