National Rohtak Slider

रोहतक सार समाचार : मंगलवार, 1 जनवरी 2018

हरियाणा में कांग्रेस की सरकार आते ही 6 घण्टे के अंदर पहली कलम से किसानों का कर्ज होगा माफ : दीपेन्द्र हुड्डा

अनूप कुमार सैनी / रोहतक के अनेक कार्यक्रमोंं में शिरकत करने पहुंचे सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने सभी को नए साल की बहुत-बहुत शुभकामनाएं दी। इस दौरान बड़ा ऐलान करते हुए कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य और सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने बताया कि हरियाणा में कांग्रेस की सरकार आते ही सहकारी व अन्य बैंकों से कृषि कार्यों के लिए लिये गये ऋण 6 घंटे में माफ कर दिये जाएंगे और 12 घंटे में बुढ़ापा पैंशन 3000 रुपए मासिक कर दी जाएगी तथा बिजली के बिल घटा कर आधे कर दिए जाएंगे। Rohtak News

उन्होंने 2004 में केन्द्र की तत्कालीन भाजपा सरकार द्वारा सरकारी कर्मचारियों की पैंशन स्कीम को बन्द करने के फैंसले को अव्यवहारिक बताते हुए कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने पर पुरानी पैंशन स्कीम को पुनः लागु किया जायेगा।

लोगों को संबोधित करते हुए सांसद हुड्डा ने कहा कि हुड्डा सरकार के 10 साल के शासनकाल में गन्ना उत्पादकों को न केवल उच्चतम भाव दिया बल्कि समय पर गन्ने की पेमैंट सुनिश्चित की। जबकि भाजपा सरकार सीजन 2017-18 का मिलों पर किसानों का सैंकड़ों करोड़ रुपए का बकाया अभी तक नहीं दिला सकी।

प्रदेश की भाजपा सरकार को किसान विरोधी करार देते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में कई जगह हुई ओलावृष्टि के नुकसान की अभी तक विशेष गिरदावरी नहीं हुई है। कृषि विभाग कह रहा है कि रिकवरी सम्भव है पर शायद सरकार को नहीं मालूम कि औलों से टूटे सरसों के डंठल की रिकवरी सम्भव नहीं।

कांग्रेस सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार कोई नया काम नहीं कर रही है बल्कि पहले से जारी स्कीमों का नाम बदल रही है। सांसद दीपेन्द्र ने कहा कि कर्मचारियों में भारी असन्तोष है। खासकर परिवहन विभाग में स्थिति असामान्य है। विभाग की किलोमीटर स्कीम ने कर्मचारियों को आन्दोलन पर जाने को मजबूर कर दिया, जिससे आम आदमी को भी भारी परेशानी हुई।

उन्होंने घोषणा पत्र में उल्लेख किए गए एक-एक वायदे पर मुकरने का आरोप लगाते हुए पूछा कि सरकार बनते ही बुढ़ापा पैंशन 2000 रुपए मासिक क्यों नहीं हुई। बेरोजगारों को 6000 और 9000 रुपए बेरोजगारी भत्ता क्यों नहीं दिया गया। स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को कूड़ेदान में क्यों डाल दिया गया। Rohtak News

सांसद ने सरकार से सवाल किया कि कर्मचारियों को पंजाब के समान वेतनमान क्यों नहीं दिया गया। हर जिले में नये मेडिकल कॉलेज सरकार क्यों नहीं खोल पाई और कौन सा विश्वविद्यालय अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का बना? सरकार सबका साथ सबका विकास का नारा लगा रही है तो क्यों उनके ही विधायक और मंत्री पक्षपात का आरोप लगा रहे हैं?

राफेल खरीद घोटाले पर बोलते हुए सांसद हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार ने इस में तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर सुप्रीम कोर्ट में पेश किया है। जिसमें कई झूठी जानकारियां दी गई तथा कई महत्वपूर्ण तथ्य कोर्ट को नहीं बताए गए। जिसके आधार पर कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है। मामला उजागर होने पर केंद्र सरकार इसे टाइपो एरर बता रही है। राफेल घोटाले का सच देश के सामने लाने के लिए जेपीसी का गठन हो ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके।

स्काईटेक मॉल में चल रहे सात दिवसीय ग्रैंड विंटर कार्निवाल का विधिवत समापन – Rohtak News

हर्षित सैनी /  सेक्टर-3 स्थित स्काईटेक मॉल में चल रहे सात दिवसीय ग्रैंड विंटर कार्निवाल का रंगारंग समापन हो गया। दूर-दूर से आए कलाकारों ने अपनी प्रतिभा के जरिए शहरवासियों का खूब मनोरंजन किया। मुख्य अतिथि पूर्व पुलिस उपाधीक्षक रणधीर सिंह मलिक रहे जबकि विशिष्ट अतिथि के तौर पर समाजसेवी दीपक मलिक की पत्नी शालिनी मलिक व वीटा मिल्क प्लांट के मुख्य अकाऊंट ऑफिसर राजेन्द्र भाटिया रहे।

कार्निवाल की जानकारी देते हुए कार्यक्रम संयोजिका खुशी मलिक ने बताया कि अंतिम दिन मुख्य रूप से 55 प्रतिभागियों ने अपनी प्रतिभा दिखायी। जिसमें हरियाणवी सुपर स्टार देव कुमार देवा व प्रसिद्ध कलाकार विजय ढ़ाका ने अपनी प्रस्तुतियों से रोहतकवासियों को झूमने पर मजबूर कर दिया। खचाखच भरे माल में नव वर्ष की शाम मनाने वालों का तांता लग गया। माहौल को खुशनुमा बनाने में कलाकारों ने कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी। Rohtak News

खुशी मलिक ने बताया कि देव कुमार देवा ने सहयोगी कलाकार पायल मेहरा, शालू, सोनिया आदि के साथ ‘हरियाणे का छोरा सूं धूंमा ठा दूंगा’, ‘खींच के मारा दम’, ‘सोणिये बोल तेरे मीठे-मीठे’, ‘बाजण दो डीजे अर चलण दो जाम’ आदि गाकर दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। युवा वर्ग वंस मोर-वंस मोर की आवाजें लगाता रहा और देवा अपनी प्रस्तुतियों से सभी को लुभाते रहे। इसी तरह विजय ढ़ाका ने अपनी बेहतरीन प्रस्तुतियां देकर दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया।

उन्होंने अपनी टीम सदस्यों प्रविंद्र, मोना कश्यप, सोनिया, शालू, ज्योति, माही कटारिया आदि के साथ मिलकर ‘हरियाणा की शान बेटी’, ‘बहू काले की’, ‘गुलाबो’ आदि पर प्रस्तुति देकर दर्शकों को नाचने पर मजबूर कर दिया।

वहीं प्रवीन नैनी व उनके साथियों ने मैलोडी मिक्स से दर्शकों का मनोरंजन किया। शालू, प्राची गुप्ता, लवली जांगड़ा ने जबरदस्त हरियाणवी नृत्य दिखाकर दर्शकों को कला संस्कृति से जोडऩे के काम किया। ज्योति ने ‘आधी सी रात मेरी नींद उचट गई’ पर नृत्य करके शानदार प्रस्तुति दी। राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की छात्रा कुमारी निशा ने लगातार दो नृत्य प्रस्तुतियां देकर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया।

अंत में सभी प्रतिभागी कलाकारों को स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया गया। खुशी मलिक ने सभी प्रायोजकों एलपीएस बोसार्ड, मारूति सुजुकी, वीटा, सेंट्रल बैंक, सृष्टि हुंडई, पठानिया स्कूल, आईएफबी, सभी कलाकारों व दर्शकों को प्यार व सम्मान देने के लिए धन्यवाद कर विधिवत रूप से कार्निवाल का समापन किया। आज मुख्य रूप से कैप्टन जगवीर मलिक, राजबीर राज्याण, जसबीर सिंह मलिक, सुमेधा धानी, राजबीर मलिक, अनुराग परवाना आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

चंदे से एकत्रित धनराशि को जाट संस्था में विद्यार्थियों की सुविधा के लिए खर्च किया जाए : महिपाल गिल

हर्षित सैनी / ऑल इंडिया जाट हीरोज मैमोरियल कॉलेज के एसोसिएट प्रोफेसर महिपाल गिल ने अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति द्वारा जसिया गांव में बनाये जाने वाले प्रस्तावित चौ. छोटूराम धाम व कोचिंग इंस्टीट्यूट पर सवाल उठाए हैं।

उन्होंने कहा कि चौ. छोटूराम का जन्म स्थान गढ़ी सांपला है इसलिए उनका धाम भी उनके जन्मस्थान पर ही होना चाहिए। वहीं अगर समाज जाट आरक्षण आंदोलन की याद में कोई संस्थान का निर्माण करना चाहता है तो वह भी सांपला में ही बनाया जाना चाहिए क्योंकि जाट आरक्षण आंदोलन की शुरूआत भी वहीं से हुई थी।

उन्होंने कहा कि जसिया में एक कोचिंग संस्थान की शुरूआत करने पर विचार किया जा रहा है, जोकि पूरी तरह से असंगत है। जसिया गांव में न तो कार्यस्थल पर टीचिंग फैकल्टी ही उपलब्ध है और न ही यहां विद्यार्थी उपलब्ध होंगे क्योंकि वहां सडक़ मार्ग द्वारा सभी दिशाओं से बहुत बेहतर जुड़ाव नहीं है जबकि रोहतक व सांपला में अधिक बेहतर जुड़ाव है तथा अधिक बढिया संसाधन यहां पर उपलब्ध हैं क्योंकि यहां आस-पास बहुत से दूसरे संस्थान पहलेसे ही चल रहे हैं।

महिपाल गिल ने कहा कि इस कोचिंग इंस्टीट्यूट को रोहतक के जाट शिक्षण संस्थान में भी आरम्भ किया जा सकता है। जहां दस हजार से भी अधिक छात्र विभिन्न संस्थानों में शिक्षा ले रहे हैं। यहां यह बात भी महत्वपूर्ण है कि विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रमों के लिए विभिन्न संकाय के छात्र उपलब्ध हैं और संकायों को ध्यान में रखते हुए प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए विशेष कक्षाएं आरम्भ की जा सकती हैं। इसके अलावा जाट शिक्षण में पहुंचना भी बहुत आसान है।

उन्होंने कहा कि जाट शिक्षण संस्थान रोहतक में छात्रों की इतनी बड़ी संख्या को समाहित करने के लिए शिक्षण कक्षाओं के कई भवनों की आवश्यकता है। ऊपर से अकेले जाट महाविद्यालय में तीन भवन क्रमश: कला व विज्ञान संकाय के भवन हैं, जो बहुत जर्जर हालत में हैं और किसी भी क्षण ढह सकते हैं तथा एक भवन गत आठ वर्षों से अधूरा पड़ा है।

इसके अलावा जाट संस्थान रोहतक में छात्रावास की भी कमी है जिस कारण से छात्र-छात्राओं को बहुत बड़ी संख्या में बाहर बतौर पेईंग गेस्ट रहकर शिक्षा ग्रहण पड़ती है जहां न तो शिक्षकों का नियंत्रण है और न ही अभिभावकों का, इसलिए वे बुरी व गंदी आदतों का शिकार हो रहे हैं।

उन्होंने बताया कि जाट संस्था के कैम्पस में फार्मेसी महाविद्यालय भी आरम्भ किया जा सकता है। जिसकी बहुत ही आवश्यकता महसूस की जा रही है। इसके अलावा जाट संस्था में बनने जा रहे ऑडिटोरियम के निर्माण में भी पंद्रह से बीस करोड़ रूपये की लागत की संभावना है। इसलिए जाट आरक्षण संघर्ष समिति द्वारा इकट्ठा किये गए धन को समाज की भलाई के लिए जाट संस्थाओं में लगाना चाहिए। उनका कहना था कि जसिया गांव में प्रशिक्षण संस्थान चलाने का कोई औचित्य नहीं है।

सेना में कमीशन प्राप्त कर मामा के घर खरावड़ पहुंचने पर ले. विनीत दहिया का हुआ भव्य स्वागत

हर्षित सैनी / भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट के रूप में विनीत दहिया कमीशन प्राप्त कर अपने मामा के घर खरावड़ पहुंचे। यहां पहुंचने पर उनके मामा ज्ञान सिंह, उनके ममेरे भाई गांव के सरपंच बिजेन्द्र मलिक, धर्मपाल, राजपाल, संजय ठेकेदार, जीत सिंह, राजबीर मलिक, कैप्टन जगवीर मलिक सहित सैंकड़ों लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया।

उनके स्वागत समारोह के उपरांत उनके सुखमय और सफल सेना अधिकारी बनने की कामनाओं के साथ हवन-यज्ञ किया गया। ले. विनीत दहिया ने अपनी इस सफलता पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यह मेरे पापा, ताऊ जी व माता जी की प्रेरणा से हो पाया है। उनके पापा वेदपाल सेना में जेडब्ल्यूओ के पद पर कार्यरत हैं।

उनके ममेरे भाई खरावड़ के सरपंच बिजेन्द्र मलिक ने बधाई देते हुए बताया कि विनीत बाल्यकाल से होनहार व निपुा था तथा अपनी पढ़ाई में हमेशा अव्वल रहता था। हमारे बच्चों को भी उनकी इस सफता से प्रेरणा ले आगे चलकर देशसेवा के लिए सेना में जाने की योजना बनाएंगे।

23 जनवरी को सांपला में होने वाली सर्वखाप महापंचायत स्थगित – Rohtak News

हर्षित सैनी / 23 जनवरी को सांपला में होने वाली सर्वखाप महापंचायत को कड़ी सर्दी व किसानों की व्यस्तता के कारण फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। आज स्थानीय दिल्ली रोड़ स्थित सनसिटी में आयोजित रोहतक, सोनीपत एवं झज्जर जिलों की खापों के प्रधानों एवं प्रतिनिधियों की बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया।

बैठक की अध्यक्षता कर रहे सर्वखाप संयोजक महेन्द्र सिंह नान्दल ने बताया कि गन्ने की फसल की कटाई और गेहूं की सिंचाई में सभी किसान व्यस्त हैं एवं सर्दी का भी काफी प्रकोप है। ऐसे में मौसम को ध्यान में रखकर किसानों की मांग पर बहादुरगढ़ में निर्धारित की गयी 23 जनवरी को सांपला में आयोजित होने वाली महापंचायत को फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। Rohtak News

उन्होंने बताया कि सामाजिक आन्दोलन करने का यह सही समय भी नहीं है। इससे साम्प्रदायिक ताकतों को बल मिलेगा। अभी जरूरत है 36 बिरादरी की एकता व भाईचारे की। वोट की चोट से उन लोगों को सबक सिखाने का, जिन्होंने बार-बार वायदे और वचन देकर अपना काम नहीं किया। आज भी समाज के 10 युवा जेलों में यातनायें झेल रहे हैं।

सैंकड़ों युवाओं पर मुकदमें चल रहे हैं, जिन्हें आज तक वापिस नहीं लिया गया है। ये सब बातें हमें कुछ न कुछ सीख जरूर दे रही हैं।
6 दिसम्बर को रोहतक में सीबीआई कोर्ट पंचकूला में पेशी पर जाते हुए खेड़ी साध के बिजेन्द्र पुत्र उमेद सिंह की मृत्यु पर शोक प्रकट करते हुए दो मिनट का मोन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई।

सर्वखाप पंचायत ने दिवंगत बिजेन्द्र की धर्मपत्नी ज्योति व उनकी दोनों नाबालिग पुत्रियों को एक-एक लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करने का निर्णय लिया तथा बैठक के तुरन्त बाद बिजेन्द्र के घर जाकर उनकी विधवा को उनके व दोनों बेटियों के नाम एक-एक लाख रूपये के चैक समाज की तरफ से आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान किए गए।

इस अवसर पर दहिया खाप प्रधान सुरेन्द्र दहिया, कादियान खाप प्रधान केदार कादियान, अहलावत खाप प्रधान जय सिंह अहलावत, रोहतक-84 खाप प्रधान हरदीप अहलावत, महम चौबीसी खाप प्रधान तुलसी ग्रेवाल, हुड्डा खाप पूर्व प्रधान धर्मपाल हुड्डा, मलिक खाप प्रतिनिध कैप्टन जगवीर मलिक, सुनारियां सतगामा प्रधान प्रकाश बुधवार, अठगामा प्रधान बलराज नान्दल, अश्वनी दहिया, मांगे राम अहलावत आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

मैसूर में आयोजित 44वीं अखिल भारतीय समाज शास्त्र कांफ्रेंस में मदवि के छात्रों ने प्रस्तुत किए शोध पत्र

हर्षित सैनी / मैसूर में आयोजित 44वीं अखिल भारतीय समाज शास्त्र कान्फ्रेंस में देश के विभिन्न राज्यों और देशों के लगभग 1000 समाज शास्त्रियों ने भाग लिया।
अन्तर्राष्ट्रीय समाज शास्त्र परिषद् की पूर्व अध्यक्ष प्रो. मार्गेट अब्राहम और भारतीय समाजशास्त्र परिषद् की अध्यक्ष प्रो. इंदिरा ने कहा कि भारतीय समाज के अध्ययन में नया समाज शास्त्रीय दृष्टिकोण अपनाने की आवश्यकता है।

हरियाणा से नॉर्थ वेस्ट सोशियोलॉजीकल एसोसिएशन के अध्यक्ष और द्रोणाचार्य राजकीय महाविद्यालय के समाजशास्त्र विभाग के अध्यक्ष भूप सिंह गौड़ ने शोध समिति 22 के तकनीकी सत्र की अध्यक्षता की और महात्मा गांधी और डॉ. बी.आर. अम्बेडकर के जाति, छुआछूत और गांव पर विचार का तुलनात्मक अध्ययन पर जाति, वर्ण, छूआछात को खत्म करने और सुधार करने पर विभिन्न विचार रखे। उन्होंने कहा कि इन विषयों पर उनके विचार आज भी प्रासंगिक हैं।

प्रो. सिंह ने तकनीकी सत्र-2 की अध्यक्षता करते हुए कहा कि चाहे जम्मू एवं कश्मीर हो या देश के अन्य भागों में चल रही हिंसात्मक घटनाओं को मानवता के खिलाफ और समाज को पुर्ननिर्माण और देश की अखंडता में बांधना है।

इस मामले को केन्द्र एवं राज्य की विभिन्न सरकारी एजेंसियों खास तौर पर मीडिया को अपनी भूमिका निभानी होगी, तभी अखंड और खुशहाल भारत बन सकेगा। हिंसाग्रस्त राज्यों में नई पीढ़ी के युवाओं का इनका जुडऩा समाज और देश के हित में नहीं है।

महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के समाज शास्त्र विभाग की शोध छात्राओं प्रीति राज ने भूमि अधिग्रहण और इसका परिवारिक रिश्तों पर प्रभाव पर, निशा सैनी ने विवाहित महिलाओं में उच्च शिक्षा प्राप्त करने में चुनौतियां, निधि ने ग्रामीण हरियाणा में महिलाओं के विरूद्ध घरेलू हिंसा, पूर्व शोध छात्र अरूण ने कामकाजी भूमिकाओं और बदलती निर्णय प्रक्रिया पर शोध पत्र प्रस्तुत कर विश्वविद्यालय का नाम रोशन किया।