Bikaner Rajasthan Slider

सफाई व्यवस्था में खामियां देख दो कर्मचारियों को किया निलम्बित

बीकानेर। जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने बुधवार को शहर में सफाई व्यवस्था की दुर्दशा देखकर दो कर्मचारियों को निलम्बित कर दिया। जिला कलक्टर ने प्रात: शहर की सफाई व्यवस्था का जायजा लिया और कहा कि शहर में नियमित मॉनिटरिंग के बावजूद सफाई व्यवस्था में खामियां नजर आ रही है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। गौतम ने पब्लिक पार्क से निरीक्षण कार्य प्रारम्भ किया। पब्लिक पार्क में जगह-जगह बिखरे कचरे और गंदे पानी को देखकर जिला कलक्टर ने कहा कि इस ऐतिहासिक व हैरिटेज पार्क की दुर्दशा हो रही है। यहां फैले कचरे को हटवाया जाए तथा यह सुनिश्चित हो कि यहां नियमित साफ-सफाई हो। मुख्य सड़क पर टूटे फुटपाथ को देखकर जिला कलक्टर ने खुद उसका फोटो लिया तथा इसे सही करवाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने कहा कि शहर भर से लोग पब्लिक पार्क में घूमने के लिए पहुंचते हैं। यहां समुचित संख्या में डस्टबिन उपलब्ध हो। उन्होंने पार्क में अव्यवस्थाओं के कारण यूआईटी के जुनियर इंजीनियर राजेन्द्र सारण को निलम्बित कर दिया।

jeevan raksha hospital
टूरिज्म प्वांइट की तरह विकसित करें पब्लिक पार्क निरीक्षण के पश्चात जिला कलक्टर ने यहां स्थित पूर्व उद्यानिकी कार्यालय भवन का निरीक्षण किया। उन्होंने देखा कि सफाईकर्मी इस भवन में सो रहे थे। जिला कलक्टर ने इस पर कड़ी नाराजगी जताते हुए कहा कि पत्थरों पर नक्काशीदार कारीगरी बीकानेर शहर की विशेषता है, और सम्बंधित लोगों की लापरवाही के चलते शहर के हैरिटेज लुक को नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि निगम इस इमारत के प्रति लापरवाही न बरते और इसे ठीक करवाएं। यह स्थान स्थानीय और विदेशी सैलानियों के लिए टूरिज्म प्वांइट की तरह विकसित हो सकता है।

arham-english-academy
तीन दिन में चालू करें टॉय ट्रेन, रविवार को मुफ्त सैर जिला कलक्टर ने पब्लिक पार्क में स्थित बच्चों के पार्क का जायजा लिया और कहा कि बच्चों के पार्क को साफ कर तीन दिन में यहां स्थित टॉय ट्रेन का चालू करें। उन्होंने कहा कि इस टॉय ट्रेन में बच्चे रविवार को मुफ्त सैर कर सकेंगे। इसके बाद कुमार पाल गौतम जूनागढ़ के सामने पहुंचे जहां बेतरतीब से बिखरे कचरे पर कड़ी नाराजगी जताते हुए उन्होंने कहा कि निर्देशों के बावजूद यहां सफाई क्यों नहीं हो रही है। इस पर उन्हें बताया गया कि शाम के समय यहां ठेले लगते हैं और ठेलों के कारण यहां रोज कचरा फैल जाता है। जिला कलक्टर ने यहां सफाई करने के निर्देश देते हुए कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि रात के समय यहां ठेले न लगे। इस कारण से जूनागढ़ के ऐतिहासिक लुक को नुकसान हो रहा है। जिला कलक्टर ने इसके बाद सूर सागर का जायजा लिया और कहा कि सूरसागर में और सुविधाएं विकसित की जाएंगी।
जिला कलक्टर ने कहा कि स्वयं सेवी संस्था के साथ बैठक कर इस तरह के ऐतिहासिक स्थलों पर आम लोग गंदगी न करें और साफ-सफाई बनाए रखने में सहयोग देें इस सम्बंध में समझाइश की जाएगी। जिला कलक्टर ने रतनबिहारी पार्क का भी जायजा लिया और यहां स्थित मंदिर के स्थापत्य कला की तारीफ की। लेकिन पार्क में एंट्री करने के लिए पीछे स्थित गली में फैले कचरे और गंदे पानी तथा गंदगी के कारण जिला कलक्टर का चलना दूभर हो रहा था। गली में फैली बदबू के कारण जिला कलक्टर ने तेज चल कर रास्ता पार किया। जिला कलक्टर ने कहा कि शहर की हर गली साफ बने, सफाईकर्मी नियमित सफाई करें यह सुनिश्चित हो। स्थानीय नागरिक भी सफाई की आदतें विकसित करें, कचरा गली में न फेंके, और पॉलिथीन का प्रयोग न करने की शपथ लें। पार्क के पीछे बने मैरिज पैलेस के बारे में जिला कलक्टर ने कहा कि इस पैलेस के बाहर गंदगी न हो यह भी सुनिश्चित किया जाएगा।

रतन बिहारी पार्क की दीवार पर पोस्टर लगाने वालों पर कार्यवाही

जिला कलक्टर ने रतन बिहारी पार्क में स्थित बच्चों के पार्क में फैली गंदगी पर नाराजगी जताई और कहा कि यहां झूले टूटे हैं। बच्चों के लिए खेलने की जगह साफ-सथुरी बनाएं और उन्हें स्वच्छ वातवरण दें। आगे स्थित एक पार्क में बैठे बुजुर्गों ने शिकायत की कि सर गंदगी बहुत है। सफाईकर्मी तो आते ही नहीं है। इस पर जिला कलक्टर ने कहा कि ऐतिहासिक पार्क की सार संभाल के लिए देवस्थान विभाग को भी निर्देशित किया जाएगा। रतन बिहारी पार्क की दीवार अंदर बाहर से पोस्टरों से अटी थी। इसे देखकर जिला कलक्टर ने कहा कि पोस्टर चिपकाने वालों के विरूद्ध सार्वजनिक सम्पति विरूपण एक्ट के तहत कार्यवाही कर, नोटिस दिया जाए।

सेनेटरी इंस्पेक्टर को किया निलम्बित

निरीक्षण के दौरान जिला कलक्टर फड़ बाजार भी पहुंचे और पूरा बाजार पैदल चलकर क्रॉस किया। इस दौरान लोग लगातार बाहर निकल कर जिला कलक्टर से मुलाकात कर रहे थे। गंदगी की शिकायत पर जिला कलक्टर ने कहा कि यहां रात में सफाई होती है। क्यों आयुक्त साब। इस पर नगर निगम कमिश्नर ने कोई जवाब नहीं दिया। महिलाओं ने कहा कि सर यहां सफाई न तो रात में ना ही दिन में होती है।

इससे नाराज होकर जिला कलक्टर ने यहां सफाई व्यवस्थाओं का जिम्मा देख रहे सेनेटरी इंसपेक्टर बुलाकी को निलम्बित करने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने कहा कि फड़ बाजार में बिजली के खंभे व तार जल्द अंडरग्राउण्ड करवाएं जाएंगे, ताकि यहां साफ-सफाई व ट्रेफिक व्यवस्था को बनाए रखने में मदद मिल सके। जिला कलक्टर ने फड़ बाजार में बनी एक बहुमंजिला इमारत देख कर नगर निगम आयुक्त को भीड़-भाड़ वाले इस क्षेत्र में इस वाणिज्यिक इमारत की इजाजत आदि के बारे में तथ्यात्मक रिपोर्ट देने की बात कही।

जिला कलक्टर ने इसके बाद शहर के विभिन्न स्थानों पर सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया। वे रांगड़ी चौक, भुजिया बाजार, घूमचक्कर में पैदल चले और सफाई व्यवस्थाएं देखी। मावा पट्टी की टूटी सड़क पर कार का निकलना मुश्किल हो रहा था। इसके बाद तेलीवाड़ा होकर दाउजी मंदिर होते हुए जिला कलक्टर प्रकाशचित्र के सामने पहुंचे, वहां मशीन से सफाई हो रही थी। जिला कलक्टर ने मावा पट्टी की टूटी सड़क ठीक करवाने के निर्देश दिए।

gyan vidhi PG college