Pushkar Rajasthan Slider

तेज गति से दौड़ रहे है यमदूत

तेज गति से दौड़ रहे है यमदूत

पुष्कर में वाहनों की भारी आवाजाही के चलते लोगों का पैदल चलना मुश्किल हो रखा है पुष्कर के अंदर बाईपास पास नहीं होने के कारण दिनभर भारी वाहन तेज गति से यमदूत बनकर दौड़ रहे हैं जिनको न रोकने वाला न टोकने वाला कोई नहीं होने के कारण आये दिन हादसे हो रहे है तथा यह कभी भी बड़े हादसे को निमंत्रण दे सकते हैं पूर्व में भी कई घरों के चिराग बुझ चुके हैं लेकिन अभी तक प्रशासन ने इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने के कारण दिनभर तेज गति से भारी वाहन यमदूत बन कर दौड़ रहे हैं जो कभी भी किसी भी घर का चिराग बुझा सकते हैं स्थानीय लोगों ने पुष्कर में भारी वालों पर प्रशासन से रोक लगाने की मांग की है वहीं बांगड़ तिराये से गनाहेड़ा चुंगी चौकी पर लोगों की आवाजाही लगी रहती है सरकारी और निजी कार्यालय अस्पताल स्थित होने के कारण लोगों की दिनभर भारी भीड़ इस रोड पर लगी रहने के बावजूद भी बजरी के डंपर सहित भारी वाहन कस्बे के अंदर तेज गति से दौड़ रहे हैं।

पुष्कर घाटी से दौडऩे लगे अब भारी वाहन

अजमेर पुष्कर के बीच स्थित पुष्कर घाटी में भारी वाहनों की आवाजाही के चलतें आए दिन हो रही दुर्घटना को रोकने के लिए निवर्तमान जिला कलेक्टर गौरव गोयल ने पुष्कर घाटी में भारी वाहनों पर आवाजाही पर रोक लगा दी थी लेकिन उनके तबादले के बाद उनके आदेशो की अब खुली अवहेलना शुरू हो गई और अब बेधड़क दिनदहाड़े पुष्कर घाटी से भारी वाहन तेज गति से दौड़ रहे हैं जिसके चलते कभी भी पुष्कर घाटी के अंदर भारी दुर्घटना घट सकती है जानकारी के अनुसार गौरव गोयल ने लोगों की मांग पर पुष्कर घाटी में भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी थी लेकिन लगता है कि उनके तबादले के बाद प्रशासन ने उनके आदेशों का भी तबादला कर दिया जिसके चलते अब भारी वाहन बेधड़क पुष्कर घाटी से निकलना शुरू हो गए हैं।

तीर्थ नगरी को कब मिलेगा जाम से छुटकारा

तीर्थ नगरी पुष्कर में बाय पास नहीं होने के कारण बांगड़ तिराये से गनाहेड़ा चुंगी चौकी तक भारी वाहनों की आवाज होने के कारण दिन में कई बार जाम लगनेे के कारण यात्री और स्थानीय लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है बरसों से पुष्कर में बाईपास की मांग की जा रही है लेकिन पुष्कर में कई सरकारें आई ओर चली गई लेकिन आजतक किसी ने भी बाईपास नहीं बनाया जिसके चलते अब पुष्कर में दिन-बे-दिन यातायात दबाव बढऩे के कारण जाम लग रहा है वहीं यातायात पुलिसकर्मी और स्थानीय पुलिस दिन भर जाम खुलवाने में लगी रहती है यही नहीं बांगड़ तिराये से गनाहेड़ा तिराये के बीच राजकीय अस्पताल राजकीय सीनियर उच्च माध्यमिक विद्यालय पोस्ट ऑफिस सहित कई सरकारी कार्यालय और निजी कार्यालय ओर घनी आबादी क्षेत्र स्थित है जिसके चलते दिनभर भारी आवाज रहती है भारी वाहनों के चलते कई बार दुर्घटनाएं घट चुकी है तथा कई घरों के चिराग बुझ गए लेकिन आज तक किसी ने भी बायपास बनाने की हिम्मत नहीं की और नहीं जरूरत समझी।

बिजली की चल रही आंख मिचौली

पुष्कर में अब पानी की समस्या के साथ साथ लोगो को बिजली की आंख मिचौली ने पुष्कर के जनजीवन को प्रभावित कर रखा है बिना किसी सूचना के सुबह से ही दिन भर बिजली गायब हो रही है अधिकारियों को इस मामले में जानकारी के लिए फोन करे तो किसी भी अधिकारी ने फोन उठाना तक मुनासिब नहीं समझते जिसके चलते लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है कई बार तो बिना किसी सूचना के दिन भर अघोषित बिजली कटौती हो जाती है जिसके चलते लोगों के इनवर्टर तक बोल जाते है तथा मोबाइल फोन डिस्चार्ज हो जाने से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है इन दिनों पानी की समस्या के साथ साथ लोगों को बिजली की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो वहीं दूसरी तरफ प्रशासन और जनप्रतिनिधियों के कारण लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है।

लाल मुंह के बंदरों का जबरदस्त आंतक

पुष्कर में लाल मुंह के बंदरों का जबरदस्त आतंक होने से लोगों का जीना दुश्वार हो रखा है पुष्कर के मुख्य बाज़ारो सहित घाटों पर लाल मुंह के आंतक के चलते श्रदालुओ और स्थानीय लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तथा कई बार राह चलते लोगों पर भी लाल मुंह के बन्दर हमला करके घायल कर रहे हैं स्थानीय लोगों ने नगर पालिका और जिला प्रशासन से लाल मुंह के बंदर को पकडऩे की मांग की है।

पुष्कर में सजने लगी पतंगों की दुकानें

तीर्थ नगरी पुष्कर में शीतकालीन अवकाश के साथ ही पतंगबाजी शुरू हो गई तथा बाजारों में अभी से ही पतंगों की दुकानें सजने लग गई है तथा सर्दी को देखते हुए दिनभर युवाओं की टोलिया छतों पर पतंग उड़ाते नजर आ रही है पुष्कर में प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी मकर सक्रांति का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा जिसकी तैयारियां अभी से शुरू हो गई है।